कोरोना काल मे शिक्षकों की ढाल बने शिक्षक संघ के अध्यक्ष सद्दीक मोहम्मद निलगर

कोरोना काल मे शिक्षकों की ढाल बनकर सेवा के कार्य मे डटे हुए है शिक्षक संघ के अध्यक्ष सद्दीक मोहम्मद निलगर

राजसमन्द: आमेट: महेन्द्र वैष्णव:आमेट समिपवर्ती ग्राम आगरिया स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विधालय मे सेवारत राजस्थान शिक्षक संघ राष्ट्रीय उपशाखा आमेट अध्यक्ष अध्यक्ष सद्दीक मोहम्मद नीलघर कोरोना वाइरस के संक्रमण काल में आमेट ब्लॉक के समस्त शिक्षकों की ढाल बनकर अपने विभिन्न क्षैत्रों में अपनी अनूठे सेवा कार्य के जंग मे जूटे हुए है। अध्यक्ष निलगर ने संघ के माध्यम से 31000 हजार रुपये एवं स्वयं के द्वारा 5000  हजार रुपये के मास्क व सेनेटाइजर हाथ के दस्ताने शिक्षकों को उपलब्ध करवाये। तथा अजीम प्रेम जी फाउंडेशन की ब्लॉक समन्वयक अफसाना बानों को प्रेरित कर संस्थान के माध्यम से 800 सेनेटाइजर व मास्क शिक्षकों की सुरक्षा के लिए वितरण कियें गये। अध्यक्ष ने आमेट-भील बस्ती सेलागुडा व टणका क्षेत्र में करीब 100 जरूरतमंद परिवारों को खाद्य सामग्री के कीट वितरण कराकर सेवा का प्रशंसनीय कार्य किया है। निलगर कोरोना काल में अपनी स्वयं की

ड्यूटी क्वारंटाइन सेन्टर आगरिया पर नियमित करतें हुए क्षेत्र में निगरानी का कार्य भी कर रहे है।इसके साथ साथ संघ के संरक्षक गोवधंन लाल पारीक व उनके पुत्र कुलदीप पारीक को प्रेरित कर भामाशाह रामलाल कुमावत निवासी आगरिया वाडा से एक लाख रूपयें नकद मुख्यमंत्री राहत कराने के लिए तत्कालीन उपखण्ड मजिस्ट्रेट संजय कुमार गोरा को भेंट कियें।इसी प्रकार आगरिया निवासी एक और भामाशाह मथुरा लाल सेन को प्रेरित कर 50 बोरी गैंहू आगरिया पंचायत के समस्त गांवो के निर्धन परिवारों को वितरण करवायें। नीलगर कोरोना काल में शिक्षकों के मसीहा के रूप मे सेवा कर प्रशासनिक अधिकारियों से भी शिक्षकों के हितों की रक्षा के लिए अनेक कार्य करवा रहे है।

यह अपनी 30 वर्ष की राजकीय सेवा में विभाग मे उत्कृष्ट कार्य करने पर उपखण्ड स्तर पर 5 बार सम्मानित हो चुकें है। तथा इनकें द्रारा अध्यक्ष राजस्थान शिक्षक संघ राष्ट्रीय के पद पर रहतें हुए एक साथ सेवा के अनेक कार्य कर अनूठी मिसाल कायम करने पर क्षेत्र के समस्त शिक्षकों मे बडा हर्ष है।

कोरोना काल में सेवा के एक साथ सेवा अनेक कार्य करने पर भी निलगर सेवा के कार्य का सारा श्रैय उपशाखा आमेट की समस्त कार्यकारिणी को देतें हुए कहां की संगठित होकर सेवा करने से ही सफलता मिलती है।

Post a Comment

0 Comments