सीसीएसयू ने कॉलेजो पर शिकंजा कसा

मेरठ: प्राइवेट कॉलेज के शिक्षकों के वेतन को लेकर विश्विद्यालय हुआ सख्त।
लॉक डाउन के चलते स्कूल और कॉलेज 20 मार्च से लगातार बैंड चल रहे हैं, जिसके कारण बहुत से स्कूल और कॉलेज संचालक अपने यहाँ कार्यरत शिक्षकों और कर्मचारियों को वेतन नही दे रहे हैं, कुछ स्कूल और कॉलेज वाले तो वेतन मांगने पर कॉलेज से निकलने की धमकी भी देते हैं। इसी तरह की शिकायत चौधरी चरण सिंह विश्विद्यालय मेरठ को भी निजी कॉलेज में कार्यरत शिक्षकों की और से लगातार मिल रही थी, जिसको विश्वविद्यालय द्वारा गंभीरता से लिया गया है और शिक्षकों की समस्या को देखते हुए, सभी महाविद्यालयों को आदेश जारी  कर दिए हैं। विश्वविद्यालय ने चेतावनी देते हुए कहा है की अगर किसी भी महाविद्यालय द्वारा किसी भी शिक्षक का वेतन रोका गया तो उस महाविद्यालय के विरुद्ध कठोर कार्यवाही की जाएगी। विश्वविद्यालय के इस आदेश के बाद शिक्षकों में अपने वेतन की आस जगी है लेकिन इसके उलट निजी महाविद्यालय संचालकों में इस आदेश के बाद खलबली मची हुई है। अब देखना है की निजी महाविद्यालय इस आदेश का पालन करते हैं, या नही।

Post a Comment

0 Comments