निर्जला एकादशी पर प्रोजेक्ट प्रसादम द्वारा वँचित जनों के लिये अमरस सेवा


वृन्दावन। विश्व वैष्णव सेवा संघ के प्रकल्प प्रोजेक्ट प्रसादम द्वारा लॉकडाउन की अवधि के आरम्भ से ही जरूरतमंद लोगों की सेवा निरन्तर चल रही है। अनलॉक- 1 आरम्भ होने पर भी भोजन सेवा, मास्क वितरण सेवा अनवरत जारी है।

इसी क्रम में निर्जला एकादशी पर वृन्दावन के परिक्रमा मार्ग में चिलचिलाती गर्मी से राहत प्रदान करने के लिये साधु सन्तों सहित श्रद्धालु परिक्रमार्थियों के लिये अमरस सेवा की गई।

प्रोजेक्ट प्रसादम के संस्थापक आचार्य आनन्दवल्लभ गोस्वामी ने बताया कि निर्जला एकादशी पर शीतल पदार्थ दान करने से अनन्त फल की प्राप्ति होती है। इसबार लॉकडाउन के चलते साधु सन्त एवं सामान्य जरूरत मन्दों की सेवा का महत्व और भी बढ़ गया है। आपने कहा कि विषम परिस्थितियों के कारण कोरोना आपदाकाल अन्य पुण्य पर्वों के समान ही जरूरतमंदों की सेवा के लिए पुण्यकाल से कम नहीं है।

पूज्य महाराजश्री ने आगे बताया कि अनलॉक-1 सत्र आरम्भ होने पर भी लोगों की मुश्किलें अभी समाप्त नहीं हो रहीं आर्थिक हालात सामान्य होने में अभी वक्त लगेगा, अतः अभी जरूरतमंदों की सेवा विश्व वैष्णव सेवा संघ द्वारा निरन्तर जारी रहेंगी। आजकी सेवा में मुख्य रूप से स्वामी सुबोधानन्द जी महाराज, ब्रह्मचारी श्रीविमल चैतन्य जी महाराज, ब्राह्मण सेवा संघ के श्रीविनीत द्विवेदीजी तथा नीरज गौड़, अविनाश शर्मा आदि के साथ महाराज श्री ने स्वयं अपने हाथों से सेवा की।

सेवा में श्रीमोनू गुप्ता जयपुर, श्रीअशोक खंडेलवाल नागपुर, श्रीअंकुश मिश्रा छिंदवाड़ा, श्रीअशोक करनानी जयपुर का उल्लेखनीय सहयोग रहा।

Post a Comment

0 Comments