अब बाहर नही बागपत में होगी कोरोना जांच


जिला अस्पताल में अब ट्रू-नेट मशीन से संदिग्ध कोरोना के मरीजों की जांच होगी। इसका ट्रायल भी शुरू कर दिया गया है। इस मशीन से एक दिन में 20 से 25 लोगों की जांच की जा सकेगी। जिला अस्पताल के टीबी विभाग में स्थापित करा दिया गया है। पैथोलॉजिस्ट और डॉक्टर को इसकी जिम्मेदारी दे दी गई है।
जिले में कोरोना के मरीज बढ़ते ही जा रहे है। फैलते संक्रमण को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टरों पर भी वर्कलोड ज्यादा हो गया है। संदिग्धों के नमूने लेकर जांच के लिए कभी मेरठ, तो कभी नोएडा भिजवाएं जा रहे है। शासन ने परेशानी को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग के ट्रू-नेट मशीन उपलब्ध कराई है। जिसके माध्यम से जिले में हर रोज 20-25 लोगों की कोरोना की जांच कर सकेंगे। अभी इसका ट्रायल किया गया है। रिपोर्ट से संतुष्ट होंगे तो आगे इसी से जांच होगी। ब्लड बैंक के प्रभारी डॉ. अनुराग, पैथोलॉजिस्ट डॉ. रमाकांत शुक्ला को इसकी जिम्मेदारी दी गई है। ये दोनों जिम्मेदारी से कार्य करेंगे। डिप्टी सीएमओ डॉ. यशवीर सिंह ने बताया कि टीबी विभाग में ट्रू-नेट मशीन लगा दी गई है। दो डॉक्टर यहां तैनात रहेंगे। हर रोज 20-25 लोगों की कोरोना की जांच करेंगे। अभी ट्रायल चल रहा है। ज्यादा नमूने वहीं रूटीन की तरह मेरठ या नोएडा भेजे जाएंगे।
एक घंटे में मिलेगी रिपोर्ट
जिला अस्पताल में कोरोना की जांच के लिए रखी गई ट्रू-नेट मशीन से कोरोना के संदिग्ध लोगों की रिपोर्ट एक घंटों में उनके सामने होगी। उन्हें ज्यादा देर तक इंतजार नहीं करना पड़ेगा

Post a Comment

0 Comments