35 साल पश्चात राजा मानसिंह की हत्या में शामिल 11 आरोपियों को आजीवन कारावास की सजा

आरोपी उच्च न्यायालय में जाते हैं तो  आवश्यक कदम उठा कर कार्यवाही करेंगी :कृष्णेंद्र कौर

 अजय विद्यार्थी :डीग / भरतपुर :



डीग 35 साल पश्चात राजा मानसिंह की हत्या में शामिल 11 आरोपियों को आजीवन कारावास की सजा होने के पश्चात पूर्व पर्यटन मंत्री और स्वर्गीय राजा मानसिंह की पुत्री कृष्णेंद्र कौर दीपा ने अपने परिवार के साथ डीग में राजा मानसिंह के शहीद स्थल पुरानी अनाज मंडी पहुंचकर शहीद स्मारक पर पुष्प अर्पित कर अपने पिता राजा मानसिह को भावभीनी पुष्पांजलि अर्पित की।
 इस अवसर पर राजा मानसिंह की पुत्री कृष्णेन्द्र कौर ने 35 साल पश्चात आरोपियों को आजीवन कारावास की सजा मिलने पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि आखिरकार उनके परिवार  सहित डीग व संपूर्ण भरतपुर जिले की जनता को न्याय मिल ही गया।

उन्होंने कहा कि न्याय पाने के लिए उन्होंने 35 साल तक कड़ा संघर्ष किया । अब अगर फैसले के विरोध में आरोपी उच्च न्यायालय में जाते हैं तो वह भी आवश्यक कदम उठा कर कार्यवाही करेंगी।

 इससे पहले डीग पहुंचने पर पूर्व विधायक कृष्णेन्द्र कौर अपनी दोनों बहनों व पुत्र दुष्यंत सिंह के साथ शहीद स्थल पर पहुंची जहां उनके समर्थकों की भारी भीड़ जमा थी ।
उन्होंने अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए कहा कि डीग की जनता का जो प्यार उन्हें राजा मानसिंह के समय से लेकर अब तक उन्हें मिला उसे हमेशा उनके प्रति बनाए रखें।

 इस अवसर पर कृष्णेन्द्र कौर दीपा  के पुत्र कुंवर दुष्यंत सिंह ने राजा मानसिंह हत्याकांड से लेकर न्याय मिलने तक के घटनाक्रम पर विस्तृत प्रकाश डाला।

Post a Comment

0 Comments