चीन को पहले तकनीकी मार, अब लद्दाख में पीएम की दहाड़: नवीन गोयल

-चीन को आर्थिक मार देकर भारत ने सिखाया सबक
-चीन के पास भारत के सामने घुटने के सिवा कोई चारा नहीं

गुरुग्राम। पहले तो चीन की भारत में चल रही 59 सोशल साइट्स को बंद करके उसे तकनीकी रूप से आर्थिक मार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दी। अब खुद लद्दाख पहुंचकर पीएम मोदी की दहाड़ से चीन परेशान हो गया है। 21वीं सदी के मजबूत भारत की इस तस्वीर को देखकर चीन के पास अब घुटने टेकने के सिवा कोई चारा नहीं है। यह बात भारतीय जनता पार्टी के जिला सचिव नवीन गोयल ने यहां जारी बयान में कही।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लद्दाख में सैनिकों के बीच पहुंचकर उनका हौंसला बढ़ाना और भारत माता के जयकारे लगाना इस बात का संकेत देता है कि भारत किसी से कमजोर नहीं है। यहां श्री कृष्ण चैन की बंसी भी बजाते हैं और जब बात संकट की या वैर भाव की आती है तो वही श्री कृष्ण चक्र भी चलाते हैं। अब चीन खुद तय कर ले कि वह भारत से बंसी की धुन सुनना चाहता है या चक्र से शीश कटवाना। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इस बात के साथ सीधा यही ईशारा था। नवीन गोयल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एकाएक कार्यक्रम बनाकर सैनिकों के बीच जाकर इस तरह से हौंसला बढ़ाना सैनिकों की वीरता को और अधिक बढ़ा गया। उन्होंने कहा कि रणनीति के मामलों में, सैन्य क्षमता के मामले में, सैन्य शक्ति के मामले में भारत कहीं कमजोर नहीं है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सेना में हर तकनीक का युद्ध का सामान, मशीनें शामिल कर रहे हैं। वे यह भी कहते हैं कि भारत बुद्ध का देश है, यह युद्ध नहीं चाहता। फिर भी अगर दुश्मन पहल करता है तो हमने भी युद्ध सामग्री दीवाली के लिए नहीं रखी है। इससे साफ है कि भारत पहल करेगा नहीं और अगर किसी दूसरे ने पहल की तो फिर छोड़ेगा नहीं।

नवीन गोयल ने कहा कि चीन की ऐप्स बंद होने के बाद अब भारत में इतनी जागरुकता आ गई है कि लोग चीन का कोई सामान भी खरीदना पसंद नहीं कर रहे। बेशक दुकानदार सस्ता दें, लेकिन ग्राहक स्वदेशी सामान ही चाहता है। भले ही वह महंगा क्यों ना मिले। यही बदलाव जरूरी है। लोकल फॉर वोकल का प्रधानमंत्री का नारा इसी तरह से सफल होगा। हम अपने देश में बनी वस्तुओं का उपयोग करेंगे तो आर्थिक रूप से और अधिक मजबूत होंगे।

Post a Comment

0 Comments