चोरी कर आ रहे युवक को नाकाबंदी टीम ने नगदी व गहनो के साथ धर दबोचा


झुंझुनूं पुलिस कप्तान जेसी शर्मा की टीम ने चोरी कर आ रहे युवक को बीच रास्ते मे ही धर दबोचा
झुंझुनूं ( रमेश रामावत ) पुलिस अधीक्षक जगदीश चंद्र शर्मा के निर्देशन में पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी । चोरी की वारदात को अंजाम दे कर आ रहे अपराधी को पुलिस ने नाकाबंदी के दौरान धर दबोचा । एसपी जेसी शर्मा ने बताया कि रविवार व सोमवार की मध्य रात्रि में बीबासर गांव से चोरी की वारदात को अंजाम देकर आ रहे युवक को नाकाबंदी के दौरान टीम ने किया गिरफ्तार । एसपी जगदीश चन्द्र शर्मा ने बताया कि वृताधिकारी झुंझुनू शहर लोकेन्द्र दादरवाल के निकट सुपरविजन में 5 जून की रात्री में बिमला बुडानिया उनि. मय कमल कानि,राजकुमार कानि, धर्मेन्द्र कानि. सुनिल कानि. योगेश कानि. पुरूषोतम कानि. चालक के सदर थाने के सामने ए श्रेणी की नाकाबंदी की गई थी इसी दौराने चैंकिग व नाकाबंदी समय 1:30 नजे रात्रि में ढिग़ाल की तरफ से एक मोटरसाईकिल को लेकर एक युवक आया जिसको रोककर नाम पता पूछा तो घबरा गया तथा उसने अपना नाम सुनिल पुत्र रामसिंह निवासी भराला, थाना सदर नीमकाथाना, जिला सीकर होना बताया। जिसको मोटरसाईकिल के कागजात व लाईसेंस के बारे में पूछा तो कोई कागजात व लाईसेंस होना नहीं बताया। शक होने पर तलाशी ली गयी तो पहनी हुई टीशर्ट के अंदर बनियान में एक प्लास्टिक की थैली मिली। जिसको चैक किया तो सोने-चांदी के जेवरात व नगद रूपये मिले। जिनके बारे में सुनिल से पूछा गया तो कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया। उक्त सामान चोरी का प्रतीत होने पर थैली को चैक किया तो 2 लाख 43 हजार 500 रूपए नगद व 1 सोने की आड, 1 पुंची सोने की, 1 सोने की बंगड़ी, 2 सोने की अगुंठी, 1 सोने का मगलसूत्र, तीन जोड़ी सोने के टॉप्स छोटे 6नग, 1 लक्ष्मीजी गणेश चांदी का 1 सिक्का मिले । मोटरसाइकिल व सोने-चांदी जेवरात तथा नगदी को पुलिस ने  जब्त कर युवक सुनिल व जप्तशुदा मोटरसाईकिल को थाना लेकर आये। इसके बाद बतादे की सोमवार को रामकुमार सिंह पुत्र अमरसिंह निवासी बीबासर ने थाने में एक लिखित रिपोर्ट पेश कर बताया कि में मेरे खेत में निवास करता हूं मेरे घर पर रूपए दो लाख तैतालिस हजार पांच सौ नकदी जिसमें रूपए 2000 के 61 नोट एवं 500 के 243 नोट थे। मेरी पत्नी के सोने के जेवरात वजन 100 ग्राम जिसमें एक सोने की आड़, पूंची, बगड़ी, दो अंगुठी, दो मंगलसूत्र, तीन जोड़ी छोटा टोप्स एवं एक चांदी का सिक्का था जो चोरी हो गया है जेवरात पुराने एवं उपयोग मे लिए हुए थे। रिर्पोट में बताया कि हम रात्रि को लगभग 9 बजे खाना खाकर सो गए थे तथा रूपये एवं जेवरात लोहे के बक्शे में थे जिसके ताला लगा हुआ था। रात्री को कोई अज्ञात व्यक्ति कमरे में घुसकर कमरे में रखे बक्शे के उपर के ढक्कन को तोडक़र उसमें रखी नकदी एवं जेवरात चोरी कर ले गया है। में सुबह करीब 4 बजे उठा तो बक्शा टुटा हुआ था। बक्से के पास कपडे एवं जेवरात के खाली डिब्बे बिखरे पडे थे मैने देखा तो रूपये एवं जेवरात गायब थे जो अज्ञात व्यक्ति चोरी कर ले गया। उक्त रिर्पेाट पर मामला दर्ज कर भंवरलाल थानाधिकारी सदर व बिमला बुडानिया उनि थाना सदर ने निगरानी में बैठाये गये सुनिल से शख्ती से पूछताछ करने पर उक्त घटना को आरोपी सुनिल पुत्र रामसिंह निवासी भराला, थाना सदर नीमकाथाना, जिला सीकर ने अंजाम देना स्वीकार किया तथा कब्जे में मिला सामान भी रामकुमार का होना बताया । जिसपर प्रकरण दर्ज कर अनुसंधान किया जा रहा है ।

Post a Comment

0 Comments