ग्रेडिड रैस्पांस एक्शन प्लान की अवहेलना पर 3 उल्लंघनकर्ताओं का किया गया चालान

 ग्रेडिड रैस्पांस एक्शन प्लान की अवहेलना पर 3 उल्लंघनकर्ताओं का किया गया चालान

-    नगर निगम गुरूग्राम की टीमों ने निगरानी के दौरान धूल उड़ाने संबंधी
     गतिविधियां करने वालों पर लगाया 75 हजार का जुर्माना
-    ग्रेडिड रैस्पांस एक्शन प्लान की पालना में सडक़ों-पेड़ों पर पानी का
     छिडक़ाव तथा मैकेनाइज्ड स्वीपिंग लगातार जारी



गुरूग्राम, 27 अक्तुबर। नगर निगम गुरूग्राम द्वारा गे्रडिड रैस्पांस एक्शन प्लान की पालना में लगातार कार्रवाई की जा रही है। इसके तहत 3 उल्लंघनकर्ताओं पर 75 हजार रूपए का जुर्माना लगाया गया है।

    नगर निगम गुरूग्राम की टीमों ने क्षेत्र में निगरानी के दौरान पाया कि सीएंडडी गतिविधियां करते समय धूल उड़ाने संबंधी अवहेलना 3 उल्लंघनकर्ताओं द्वारा की जा रही है। टीमों ने तीनों उल्लंघनकर्ताओं पर 25-25 हजार रूपए अर्थात कुल 75 हजार रूपए का जुर्माना किया तथा आगाह किया कि वे प्रदूषण बढ़ाने संबंधी गतिविधियां ना करें अन्यथा उनके खिलाफ विभिन्न नियमों के तहत एफआईआर दर्ज करवाई जाएगी।
 
    नगर निगम गुरूग्राम द्वारा ग्रेडिड रैस्पांस एक्शन प्लान की पालना में सडक़ों व पेड़ों पर पानी का छिडक़ाव लगातार किया जा रहा है। इस कार्य के लिए नियुक्त 35 टैंकर सीवरेज ट्रीटमैंट प्लांट से ट्रीटिड पानी का छिडक़ाव कर रहे हैं। इसके अलावा, सफाई के लिए 10 मशीनों का इस्तेमाल किया जा रहा है। गत 24 घंटे के दौरान निगम द्वारा हुडा सिटी सैंटर-सुशांत लोक-रैपिड मैट्रो रोड़, सैक्टर-4/7 से बसई चौक, ओल्ड दिल्ली रोड़-एयरफोर्स स्टेशन, हीरो होंडा चौक-साइबर पार्क, पटौदी रोड़-गाड़ौली गांव, सैक्टर-9/9ए,  न्यू रेलवे रोड़-बस स्टैंड रोड़, आर्टिमिस अस्पताल-वजीराबाद रोड़, बादशाहपुर-दरबारीपुर रोड़ व टीकली रोड़ सहित आसपास के क्षेत्रों में पानी का छिडक़ाव किया।

    नगर निगम गुरूग्राम की अतिरिक्त आयुक्त जसप्रीत कौर के अनुसार नगर निगम गुरूग्राम ग्रेडिड रैस्पांस प्लान की पालना सुनिश्चित करने के लिए गंभीरता से कार्य कर रहा है। ग्रैप की उल्लंघना करने वालों पर कार्रवाई करने तथा उन्हें रोकने के लिए निगम की टीमें क्षेत्र में लगातार निगरानी कर रही हैं। नागरिकों, आरडब्ल्यूए प्रतिनिधियों तथा जनप्रतिनिधियों से निवेदन है कि वे अपने क्षेत्र में प्रदूषण बढ़ाने वाली गतिविधियां करने वालों को ऐसा करने से रोकें तथा उनके बारे में नगर निगम गुरूग्राम को सूचित करें।

Post a Comment

0 Comments