महेन्द्रगढ़ में जिला मुख्यालय स्थापित करवाने को लेकर महेन्द्रगढ़ के वकील पिछ्ले 26 दिन से धरना प्रदर्शन कर रहे हैं

 महेन्द्रगढ़ : 19 दिसम्बर / प्रमोद बेवल



महेन्द्रगढ़ बार एसोसिएशन के बैनर तले जिला मुख्यालय की स्थापना को लेकर चल रहा आन्दोलन आज 27 वें दिन भी जारी रहा । शनिवार छुट्टी के दिन भी वकीलों में भारी उत्साह दिखाई दिया ।

महेन्द्रगढ़ में जिला मुख्यालय स्थापित करवाने को लेकर महेन्द्रगढ़ के वकील पिछ्ले 26 दिन से धरना प्रदर्शन कर रहे हैं । इस कड़ी में वकीलों ने लघु सचिवालय का गेट बन्द करके विरोध जताया था । जिसके लिए प्रशासन ने वकीलों के खिलाफ केस दर्ज कराया गया जिसने आग में घी डालने का काम किया और आन्दोलन ओर तेज हो गया। बार एसोसिएशन महेन्द्रगढ़ के आवाहन पर क्षेत्र की सामाजिक- व्यापारिक संगठनों व सभी राजनैतिक दलों द्वारा 14 दिसम्बर को बन्द रखा गया और महापंचायत का आयोजन किया । युवा अधिवक्ता सुरेन्द्र कुमार निर्बान ने उपवास रखा लेकिन अभी तक सरकार कि ओर से कोई सकारात्मक पहल शुरू नहीं की गई है जिससे क्षेत्र में रोष बढ़ता जा रहा है ।

बार एसोसिएशन के प्रधान अजीत यादव एडवोकेट ने धरने को संबोधित करते हुए कहा कि सुरेन्द्र कुमार निर्बान एडवोकेट ने अपना उपवास/अनशन बार एसोसिएशन कार्यकारिणी व पूर्व मंत्री रामविलास शर्मा के आग्रह पर समाप्त करने का मतलब यह नहीं है कि आन्दोलन कमजोर हो गया है बल्कि युवा अधिवक्ता ने हमारे संघर्ष को ऊर्जा प्रदान की है और हम उनके त्याग व तपस्या को जाया नहीं होने देंगे । उन्होंने कहा जिला मुख्यालय हमारा हक है और हम अपना हक लेकर रहेंगे। उन्होंने क्षेत्र के नागरिकों, सामाजिक व व्यापारिक संगठनों, सभी राजनीतिक दलों से अपील की है कि वे क्षेत्र कि जिला मुख्यालय कि स्थापना के आन्दोलन में राजनीतिक विचारधारा से ऊपर उठकर कंधे से कन्धा मिला कर योगदान दें । उन्होंने कहा कि मंजिल अब दूर नहीं है ।

Post a Comment

0 Comments