गौ वंश को राष्ट्रीय पशु घोषित करने की मांग को लेकर देश भर के 790 लोकसभा राज्यसभा सांसदों को ज्ञापन

 गौ वंश को राष्ट्रीय पशु घोषित करने की मांग को लेकर देश भर के 790 लोकसभा राज्यसभा सांसदों को ज्ञापन



इंदौर - भारत की संस्कृति एवं धरोहर गौ वंश को संरक्षक प्रदान करने के मंशा से राष्ट्र संत श्री राजेश मुनि जी महाराज साहेब के सानिध्य में गौ रक्षक एवं समाजसेवी हिन्दू युवारत्न विनायक अशोक लुनिया के अध्यक्षता में इंदौर के क्लर्क कॉलोनी में राष्ट्र संत श्री राजेश मुनि जी के द्वारा ज्ञापन पत्र का विमोचन किया गया। विमोचन में मुख्य तौर से अहिँसा परमोधर्म समिति के अध्यक्ष विनायक अशोक लुनिया, डॉ. विनोद भंडारी (चेयर पर्सन अरविंदो हॉस्पिटल), आशीष बिरानी (ट्रस्टी श्री जैन श्वेताम्बर स्थानकवासी संघ, क्लर्क कॉलोनी), चेतन सालगिया (समाजसेवी), राजेन्द्र खाबिया (समाजसेवी), सुरेश सालगिया (समाजसेवी), सहित मातृत्व शक्ति मनोरम सालगिया एवं शिल्पा सालगिया मौजूद थे।

ऑनलाइन रूप से मौजूद थे समिति सदस्य
ज्ञापन विमोचन के दौरान ऑनलाइन रूप से अंतराष्ट्रीय तबला वादक आदित्य नारायण बैनर्जी (कोलकाता), बॉलीवुड म्यूजिक डायरेक्टर कौस्तव सरकार (कोलकाता), बॉलीवुड प्लेबैक सिंगर प्रणब कुमार बिश्वास (मुम्बई), अमित आदित्य सान्याल (सिंगर, कोलकाता), संदीप बैनर्जी (सितारवादक, कोलकाता), अमिताभ सिंह चौहान फ़िल्म निर्देशक (इंदौर), विशाल जैन समाजसेवी (सिलीगुड़ी), वरिष्ठ पत्रकार डॉ. सचिन कासलीवाल (उज्जैन), वरिष्ठ पत्रकार शैलेश दीक्षित (कानपुर), सोमेश पांडे (समाजसेवी, उज्जैन), परमेश कुरकुरा (राजनेता, मुम्बई), प्रवीण दक (राजनेता, बैंगलोर) सारिका जैन (भाजपा नेत्री (प्रदेश प्रवक्ता) दिल्ली), नितिन जैन (समाजसेवी लुधियाना), लूणकरण नाहटा (समाजसेवी, बाड़मेर), शिव चौरसिया (हिंदूवादी नेता, जबलपुर), सौरभ सभलोक (समाजसेवी जबलपुर) हेमंत पटेल (मीडिया कर्मी, उज्जैन) सहित कई सदस्य मौजूद रहे।

2010 में पहली बार उठाई थी मांग
ज्ञातव्य रहे कि गत चार दशक से गौ रक्षक स्व. अशोक जी लुनिया ने लगातार गौ संरक्षक के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाए और केंद्र सहित राज्य सरकारों से गौ संरक्षण के लिए मांग की वहीं वर्ष 2010 में गौ हत्या के विरोध के मार्मिक फीचर फिल्म का निर्माण कर जनजागृति के साथ राष्ट्रपति के नाम पोस्टकार्ड अभियान जारी कर एक करोड़ पोस्टकार्ड के माध्यम से गौ वंश को राष्ट्रीय पशु घोषित करने की मांग की गई थी। अभियान का संचालन करते हुए श्री अशोक जी लुनिया 2017 में प्रभु शरण को प्राप्त हुए तत्पश्चात स्व. श्री लुनिया के अभियान को उनके पुत्र विनायक अशोक लुनिया ने अपने सहयोगियों सहित सुचारू रूप से संचालित करते हुए पुनः राष्ट्रव्यापी रूप से देश के सर्वोच्च सदन लोकसभा व राज्यसभा के 790 सभासदों को ज्ञापन देकर गौ संरक्षक के मांग को मजबूत कर रहे 

Post a Comment

0 Comments