आयुध डिपो के प्रतिबंधित दायरे में अनाधिकृत निर्माणों पर हुई कार्रवाई

 आयुध डिपो के प्रतिबंधित दायरे में अनाधिकृत निर्माणों पर हुई कार्रवाई

-    जोन-2 क्षेत्र की इनफोर्समैंट टीम ने शीतला 
      कॉलोनी में 12 डीपीसी व एक निर्माणाधीन 
      मकान को तोडऩे के साथ ही 5 निर्माणों को 
      किया सील

गुरूग्राम, 5 जनवरी। आयुध डिपो के प्रतिबंधित दायरे में माननीय न्यायालय द्वारा दिए गए निर्देशों की पालना में नगर निगम गुरूग्राम द्वारा अनाधिकृत निर्माणों पर लगातार कार्रवाई की जा रही है।


    इसी कड़ी में मंगलवार को सहायक अभियंता नरेश कुमार के नेतृत्व में जोन-2 क्षेत्र की इनफोर्समैंट टीम ने प्रतिबंधित दायरे में स्थित शीतला कॉलोनी में अनाधिकृत निर्माणों पर कार्रवाई की। टीम ने यहां पर जेसीबी की मदद से 12 डीपीसी तथा एक निर्माणाधीन भवन को धराशायी किया। इसके अलावा, 5 अन्य निर्माणाधीन भवनों को सील करने की कार्रवाई भी टीम द्वारा की गई। किसी भी प्रकार के विरोध की स्थिति से निपटने के लिए मौके पर पुलिस बल तैनात रहा।

    उल्लेखनीय है कि नगर निगम गुरूग्राम के आयुक्त विनय प्रताप सिंह द्वारा निगम क्षेत्र में अनाधिकृत निर्माणों पर लगाम लगाने तथा कार्रवाई करने हेतु चारों जोनों में अलग-अलग इनफोर्समैंट टीमों का गठन किया हुआ है। इन टीमों के नेतृत्व की जिम्मेदारी सहायक अभियंताओं को दी गई है तथा उन्हें ही ड्यूटी मजिस्ट्रेट भी बनाया हुआ है। टीमों द्वारा अपने-अपने क्षेत्रों में अनाधिकृत निर्माणों के खिलाफ लगातार कार्रवाई जारी है।

    आयुध डिपो के प्रतिबंधित दायरे में माननीय न्यायालय द्वारा यथास्थिति बनाए रखने के आदेश दिए हुए हैं। इसके तहत प्रतिबंधित दायरे में किसी भी प्रकार के नए निर्माण पर पाबंदी है। नगर निगम गुरूग्राम की टीमें क्षेत्र में लगातार निगरानी कर रही हैं तथा अगर कोई व्यक्ति आदेशों की अवहेलना करता है, तो संबंधित के निर्माण पर कार्रवाई की जा रही है। इसके साथ ही नागरिकों को इस क्षेत्र में प्लॉट, मकान या दुकान आदि ना खरीदने बारे जागरूक भी किया जा रहा है

Post a Comment

0 Comments