आस्था और श्रद्धा के साथ मनाई गई रामानंदाचार्यजी की जयन्ती




आस्था और श्रद्धा के साथ मनाई गई रामानंदाचार्यजी की जयन्ती



केकड़ी । शहर के मंगलम गार्डन में गुरुवार को अखिल भारतीय वैष्णव बैरागी महासभा केकड़ी द्वारा प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी उनके आराध्य देव जगद्गुरु स्वामी रामानंदाचार्यजी की 721 वीं जयन्ती समारोहपूर्वक श्रद्धा के साथ मनाई गई। 



कार्यक्रम का शुभारंभ महासभा के संरक्षक बजरंग दास वैष्णव सांकरिया, ओमप्रकाश वैष्णव स्यार व अध्यक्ष बिरदीचन्द वैष्णव ने जगदगुरु रामानंदाचार्यजी की तस्वीर के समक्ष दीप प्रज्ज्वलन से किया। इस अवसर पर उपस्थित समाज बंधुओं ने जगद्गुरु रामानन्दाचार्य के जयकारे लगाए। 



अध्यक्ष बिरदीचन्द वैष्णव ने समाजजनों को संबोधित करते हुए कहा कि स्वामी रामानंदाचार्यजी धर्म की रक्षा के लिए मरते दम तक लड़ते रहे। आज हमें भी एकजुट होने की आवश्यकता है, क्योंकि बिखरे तो विषम परिस्थितियां हमें जीने नहीं देगी। हम गुरुदेव के पद चिन्हों पर चलकर हर जगह अपना परचम लहराएं। 


सचिव गोपाल लाल वैष्णव ने कहा कि स्वामी रामानंदाचार्यजी महाराज सम्पूर्ण मानव समाज के प्रतिष्ठापक थे। इनकी जयंती मनाने का मुख्य उद्देश्य समाज में सद्भावना जागृत करना है। रमेश वैष्णव ने रामानंदाचार्यजी महाराज के जीवन के बारे में बताते हुए उनके आर्दशों व विचारों को समाज के लिए आवश्यक बताया। गौरव वैष्णव ने समाज में व्याप्त कुरूतियों पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम का संचालन महासभा के सचिव गोपाललाल वैष्णव रणजीतपूरा ने किया। 


कार्यक्रम के अंत में अध्यक्ष बिरदीचन्द वैष्णव ने आभार जताया। इस दौरान जगदीशदास वैष्णव, भैरुदास वैष्णव, भगवानदास वैष्णव, महावीर प्रसाद वैष्णव तसवारिया, बृजकिशोर वैष्णव, गोकुल वैष्णव कंवरपुरा, नटवरदास वैष्णव, रामस्वरूप वैष्णव चौसला, राजेन्द्र रामगढ़, कुंजबिहारी, अनिल कुमार वैष्णव, दिनेश वैष्णव, परमेश्वर वैष्णव व संजय वैष्णव सहित समाज के कई लोग मौजूद थे। 


खेलकूद में दिखाया उत्साह


महासभा के प्रवक्ता दिनेश कुमार वैष्णव ने बताया कि इस अवसर पर विविध खेलकूद प्रतियोगिताओं का भी आयोजन किया गया। कुर्सी दौड़ के महिला वर्ग में कमलेश प्रथम व सरिता द्वितीय, बालिका वर्ग में माया प्रथम व कुमकुम द्वितीय, गुब्बारा फोड़ प्रतियोगिता के बालक वर्ग में गौरव प्रथम, अनुराग द्वितीय, बालिका वर्ग में प्रिया प्रथम, अर्चना द्वितीय, जलेबी रेस के बालक वर्ग में गणेश व अरविन्द संयुक्त रूप से प्रथम व दर्शन व गौरव द्वितीय, बालिका वर्ग में अर्चना प्रथम व स्नेहल द्वितीय, एक टांग की दौड़ में बालक वर्ग में अरविन्द प्रथम व गौरव द्वितीय, बालिका वर्ग में अर्चना ने प्रथम व टीना ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। सभी प्रतियोगिताओं में प्रथम व द्वितीय स्थान प्राप्त करने वालों को पारितोषिक प्रदान किए गए। प्रतियोगिताओं के पश्चात महाप्रसादी का आयोजन भी किया गया।

Post a Comment

0 Comments